Tuesday, August 28, 2018

हृदय रोग "Coronary Artery Disease"

                                                      हृदय रोग क्या है ?

हृदय रोग को हम  Coronary Artery Disease भी कहते है ये एक ऐसी स्थिति है जिसमे  हृदय को ऑक्सीजन युक्त खून की सप्लाई करने वाली ध्वनियोँ में प्लाक जम जाता है उनके अंदर                 ब्लॉकेज  हो जाता है और प्लाक उन खून की नसों को बंद करने की कोशिश है और आपके 
दिल को जाने वाली ऑक्सीजन supplies कम या बंद भी कर सकता है। 


                                           Plaque हमारे शरीर में कैसे बनता है 

Plaque हमारे शरीर में  कोलेस्ट्रॉल ,फैट  और खून के अंदर मौजूद बाकि चीज़ो के साथ मिलकर   
बनता है। ये हमारी खून की Inner layer यानि की अंदरूनी परत  में जमा होता रहता है                        और धीरे धीरे बड़ा होता रहता है।
इस बीमारी को हम Atherosclerosis भी कहते है। इसकी बजह से हमें हृदय की बीमारी होती  
 है जैसे जैसे प्लाक बढ़ता जाता है वैसे वैसे खून की नसे बंद होने लगती है। धीरे धीरे उन बंद 
होती नसों में Clot( खून का धब्बा )जमा होने  लगता है , जब ये पूरी तरह बंद हो जाये तो आपको 
heart attack हो जायेगा। 

                                                 हृदय रोग क्यों होता है 

जब हमारी दिल की मासपेशोयों को खून नहीं पहुँच पता है  तब हमारी दिल की मासपेशियां धीरे 
धीरे मरना शुरू हो जाती है।  जितना ज्यादा हमारी दिल की  नसों में  खून नहीं पहुंचेगा उतना ही            बड़ा आपको Heart attack होगा। 

                                     Heart Attack आने के क्या संकेत है 

Heart Attack  आने से पहले ये हमारी body में कई तरह के संकेत देता है और आपके शरीर में कई तरह के बदलाब भी आते है आइये जानते है -

हार्ट अटैक से पहले हमारे छाती में दर्द (Chest Pain) भी हो सकता है। 
जब हमारे  दिल के निचे वाले हिस्से को खून नहीं पहुँचता तो पेट और छाती के बीच वाले हिस्से 
में दर्द हो सकता है मतलब पेट के ऊपर वाले हिस्से में भी दर्द हो सकता है। 
दिल के ऊपर वाले हिस्से में खून नहीं पहुँचेगा तो जबड़े या गले में दर्द हो सकता है। 
आपकी बाई बाजु में दर्द हो सकता है। 
हाथ में दर्द हो सकता है। 
आपकी पीठ  में भी दर्द हो सकता है। 
Depend करता है हमारी बॉडी के किस हिस्से में खून नहीं पहुँच रहा है। दिल के आस पास 
कही भी दर्द रहता है आगे या पीछे वो heart attack का रूप ले सकती है। 
ये  सब Coronary Artery Disease की बजह से ,Atherosclerosis की बजह से ,होता है 
और Plaque की बजह से ,खून की नसों में ब्लॉकेज की बजह से भी होता है। 
  
  क्या हार्ट अटैक उम्र के साथ सभी को होता है 

ये बहुत कॉमन सा प्रश्न है की हार्ट अटैक उम्र के साथ सभी को आता है की नहीं आता है तो किन्हे आता है और  क्यों आता है आइये जानते है -

हार्ट अटैक उम्र के साथ सभी को नहीं आता है ये उनको आने की संभावना ज्यादा होती है जो 
उम्र के साथ अपनी Life Style को Change नहीं कर पाते है। जो लोग physically inactive 
है ,जंक फ़ूड ज्यादा खाते है ,तम्बाकू का सेवन करते है ,बहुत अधिक शराब पीते है ,डॉयबिटीज़ 
,कोलेस्ट्रोल,हाई ब्लड प्रेशर और भी कई चीज़े है जो हार्ट अटैक का कारन हो सकती है। 
डॉयबिटीज़ से हार्ट अटैक तभी आएगा जब आप अपने शुगर  लेवल को कण्ट्रोल नहीं कर 
रहे आपका सुगर लेवल कण्ट्रोल है तो आपको डरने की कोई जरुरत नहीं है। 

                                    हार्ट अटैक से बचने के उपाए 

हमेशा Blood Pressure 120/80mmHg  (above systolic 120mmHg /diastolic 80mmHg)
आसपास हे रखे। 
हार्ट अटैक से बचने के लिए आप रोज़ 30 minute तक सैर करे और व्ययाम करे। फिजिकल 
ऐक्टिव होना आपके लिए बहुत जरुरी है। 
जंक फ़ूड से दूर रहे ज्यादा oil होने के कारन ये आपके ब्लॉकेज को और बड़ा सकता है। 
ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखे। जिससे आप हार्ट फेलियर की आशंका 
को काम कर सकते है। 
तनाब (Stress) से दूर रहे। 
 यदि आप मोटे है तो आपको हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा है। अपने मोटापे को कम करे। 
ज्यादा मोटापा होने की बजह  से आपके हार्ट को ज्यादा रक्त और ज्यादा ऊर्जा पंप करनी 
पड़ती है। 

                    रोज़ाना खाये ये आहार हार्ट अटैक से बचने के लिए 

लोकी जूस- लोकी का जूस रोज़ पिए ,उसमे हो सके तो हरा धनिया या तुलसी या पुदीना 
भी डाल सकते है। जिससे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा काम होती है और हार्ट डिजीज का खतरा 
कम होता है। 
दही - रोज़ दही का सेवन करे इससे भी हार्ट अटैक की सभाबना कम हो जाती है। 
Green Juice -हफ्ते में एक बार Green Juice जरूर पिए जैसे ब्रॉक्ली ,पालक ,खीरा 
का जूस भी आपके हार्ट को मजबूत करता हैजिससे हार्ट डिजीज होने की सभाबना 
कम हो जाती है। 
Lemon juice -Lemon juice में भी एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते है जो हमारे bad कॉलेस्ट्रॉल 
को कम करता है और गुड कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ता है   जिससे हमारी हार्ट अटैक की          परेशानी काफी हद तक कम हो जाती है।  
टमाटर -टमाटर भी अपनी डाइट में शामिल करे। इसमें मौजूद लाइकोपीन ,वीटा केरोटीन 
और फोलेट कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद  करता है। जिससे हार्ट डिजीज का खतरा
कम हो जाता है। 
 वीट ग्रास - Wheat grass जूस भी अपनी डाइट में शामिल जरूर करे। हफ्ते में एक बार  
wheat grass जूस जरूर पिए। 
Aloevera juice - आप Aloevera juice का भी इस्तेमाल कर सकते है । ये भी हार्ट डिजीज                 का खतरा कम करता है। 













No comments:

Post a Comment